नवीन गु्रप की स्थापना

Home/फेडरेशन/नवीन गु्रप की स्थापना

1. नवीन गु्रप की सदस्य संख्या 25 होना आवष्यक है।
2. नवीन गु्रप के सदस्यों द्वारा मीटिंग आयोजित कर जैन श्वेताम्बर सोष्यल गु्रप प्रारम्भ करने का निर्णय लेना।
3. प्रायोजक ग्रुप द्वारा नवीन गु्रप क साथ विचार विमर्ष कर, गु्रप खोलने संबंधि निर्णय से आष्वस्त होने के पश्चात गु्रप के साथ मीटिंग करना एवं रीजन को नवीन गु्रप खोलने हेतु प्रायोजक गु्रप की अनुषंसा सहित आवेदन करना।
4. जैन श्वेताम्बर सोष्यल गु्रप एवं जैन श्वेताम्बर सोष्यल गु्रप्स फेडरेषन की संवैधानिक जानकारी गतिविधियों एवं कार्य प्रणाली के बारे में जानकारी प्राप्त करना, तत्पष्चात प्रायोेजक गु्रप की अनुषंसा के साथ रीजन को आवेदन पत्र भेजना चाहिये एवं आवेदन की एक प्रति फेडरेषन के कार्यालय में भेजना होगी।
5. रीजन चेयरमेन एवं रीजन सेक्रेटरी का प्रायोजक ग्रुप एवं नवीन गु्रप के सदस्यों के साथ मीटिंग कर सदस्यों की जानकारी एवं गु्रप चलाने संबंधी उनके संकल्प का अध्ययन कर सुनिष्चित करन की, नवीन गु्रप जैन श्वेताम्बर सोष्यल गु्रप के नाम एवं फेडरेषन की संबंध्दता के योग्य है। रीजन द्वारा फेडरेषन को गु्रप प्रारम्भ करने की अनुमति देने की सिफारिष की जावेगी।
6. रीजन की सिफारिष पर विचार कर फेडरेषन द्वारा गु्रप खोलने की अनुमति प्रदान की जावेगी। साथ ही संबंधित गु्रप को फेडरेषन द्वारा गु्रप नम्बर आंवटित किया जायेगा।
7. फेडरेषन पदाधिकारी, प्रायोजक ग्रप एवं रजीन की उपस्थिति में नीवन गु्रप के सदस्यों की सहमति से नवीन गु्रप की कार्यकारिणी एवं पदाधिकारियों का मनोनयन फेडरेषन पदाधिकारियों द्वारा किया जायेगा। जिसकी विधिवत घोषणा गु्रप के उद्घाटन समारोह की मिटिंग में फेडरेषन द्वारा की जायेगी।