रीजन कमेटी प्रस्तावित संविधान

Home/फेडरेशन/रीजन कमेटी प्रस्तावित संविधान

1. फेडरेषन उद्ेष्य एवं मानक संविधान समान रूप से रीजन पर प्रभावी होगा एवं रीजन इन्हीं के अन्तर्गत कार्य करेगें।
2. रजीन में निम्नानुसार पदाधिकारीगण होंगेः-
1. चेयरमेन 2. दो वाइस चेयरमेन, 3. दो सचिव, 4. कोषाध्यक्ष, 5. प्रचार-सचिव

3. रीजन के चुनाव निम्नानुसार प्रक्रिया के अंतर्गत किये जायेंगे।
1 रीजन के चेयरमैन पद हेतु संबंधित रीजन के गु्रप्स के अध्यक्ष एवं पूर्व अध्यक्ष नामांकन पत्र प्रस्तुत करने की पात्रता रखेंगे।
2 रीजन के सचिव, कोषाध्यक्ष एवं प्रचार सचिव पद हेतु गु्रप्स की जनरल कौंसिल के मेम्बर्स नामांकन पत्र प्रस्तुत करने की पात्रता रखेंगे। उम्मीदवार के नामांकन पत्र पर प्रस्तावक एवं समर्थक गु्रप का जनरल कौन्सिल मेम्बर होना आवष्यक है। कोई भी जनरल कौन्सिल मेम्बर एक ही उम्मीदवार के नामांकन पत्र पर प्रस्तावक/समर्थक बन सकेगा।
4. रीजन का कार्यकाल दो वर्ष का होगा। चुनावी वर्ष में रीजन के चुनाव फेडरेषन के चुनाव के बाद अथवा 31 मई तक करवा लिया जाना आवष्यक है।
5. रीजन के सुचारू संचालन हेतु व्यवस्थापक एवं कार्यालयीन खर्च के निर्वहन हेतु संबंधित रीजन के अन्तर्गत ग्रुपों द्वारा फेडरेषन को प्राप्त कान्ट्रिब्यूषन की कुल राषि का 20 प्रतिषत शेयर फेडरेषन द्वारा देय होगा। रीजन की कार्ययोजना कोध्यान में रखते हुए सेन्ट्रल कौन्सिल के निर्णयानुसार 20 प्रतिषत से अधिक राषि को स्वीकृत की जा सकेगी।
6. जो रीजन फेडरेषन के अंतर्गत वर्तमान में कर्यरत है उनका चुनाव फेडरेषन संविधान के अंतर्गत नियमानुसार किया जायेगा, लेकिन नवीन रीजन का गठन एवं पदाधिकारिगण प्रथम बार संबंधित रीजन के ग्रु्रप्स से परामर्ष करने के पश्चात फेडरेषन द्वारा मनोनीत किये जायेंगे जो सर्वमान्य होंगे।
7. नवीन रीजन का गठन राज्यवार किया जायेगा। किसी भी राज्य में 10 गु्रप्स के प्रारम्भ होने के पष्चात उस राज्य में रीजन का गठन फेडरेषन द्वारा किया जायेगा। गु्रप के विस्तारीकरण की अनुकूल संभावना को मद्ेनजर रखते हुए एक्टेंषन कमेटी चेयरमैन की सिफारिष पर फेडरेषन द्वारा उस क्षेत्र के लिए रीजन प्रभारी नियुक्त किये जा सकेंगे। किसी भी रीजन में 25 गु्रप्स की स्थापना एवं उनके विधिवत कार्यकषील होने पर फेडरेषन उसी राज्य में क्रमानुसार एक से अधिक रीजन प्रारंभ कर सकेगा।